Connect with us

उत्तराखण्ड

मानसून काल के दृष्टिगत जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में आपदा आईआरएस से जुड़े अधिकारियों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक ली,

रूद्रपुर मानसून काल के दृष्टिगत जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में आपदा आईआरएस से जुड़े अधिकारियों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक ली।
बैठक में जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी तथा कर्ममचारी अलर्ट मॉड पर रहे तथा अपने-अपने मुख्यालय पर ही बने रहे और मोबाईल प्रतिदिन 24 घण्टे ऑन रखे। जिलाधिकारी ने बाढ़ नियंत्रण हेतु आपदा प्रबन्धन अधिनियम के अन्तर्गत बेगुल डाम की आवश्यकतानुसार डिसिल्टिंग कराने के निर्देश सिंचाई विभाग के अभियंताओं को दिये। जिलाधिकारी ने जनपद में बाढ़ के दृष्टिगत संवेदनशील क्षेत्रों, गांवों को चिंहित करने, राहत कैम्पों के लिए स्थान चिंहित करने, चिंन्हित राहत कैम्पों के लिए आधारभूत सुविधाओं हेतु सम्बन्धित विभागों को कार्य योजना तैयार रखने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने आपदा के दृष्टिगत जनप्रतिनिधियों से संवाद हेतु बीडीसी सदस्यों तथा ग्राम प्रधानों के मोबाइल नम्बर उपलब्ध कराने के निर्देश जिला पंचायतीराज अधिकारी को दिये। जिलाधिकारी ने राजस्व, पुलिस, लोनिवि, सिंचाई तथा वन विभाग के अधिकारियों को अपने-अपने उपकरण चैक करने, चिकित्सा विभाग को फर्स्ट एण्ड किट तैयार रखने, पर्याप्त मात्रा में दवाईयां रखने के निर्देश दिये। उन्होंने नदियों के कैचमेंट क्षेत्रों के अधिकारियों से समन्वय बनाये रखने के निर्देश उप जिलाधिकारियों को दिये।
जिलाधिकारी ने सिंचाई विभाग उत्तर प्रदेश के अधिकारियों से समन्वय हेतु अधीक्षण अभियंता सिंचाई को कॉर्डिनेटर नामित किया। जिलाधिकारी ने डामों की क्षमता के अनुसार ही पानी भरने के निर्देश सिंचाई विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने प्रत्येक डाम के लिए दो-दो बोट का प्रस्ताव शासन में भेजने के निर्देश सिंचाई विभाग के अभियंताओं को दिये। जिलाधिकारी ने ट्रांजिट कैम्प क्षेत्र में अनुपयोगी रेगुलेटर हटाने के निर्देश भी सिंचाई विभाग को दिये। जिलाधिकारी ने पानी की उचित निकासी हेतु बाजपुर में शमशान घाट के पास नाले का मिलान कराने के निर्देश अधिशासी अधिकारी को दिये। जिलाधिकारी ने जल जनित बीमारियों की रोकथाम हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश चिकित्सा, पशुपालन तथा शहरी विकास विभाग के अधिकारियों को दिये।
जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि विद्युत लाइनों के पास पेड़ों की लॉपिंग की जाये तथा आवश्यकतानुसार खतरनाक पेड़ो का कटान कराने के निर्देश विद्युत तथा वन विभाग के अधिकारियों को दिये। जिलाधिकारी ने जनपद में अतिरिक्त ट्रांसफार्मर तथा अन्य आवश्यक उपकरण रखने के निर्देश विद्युत विभाग के अभियंताओं को दिये। जिलाधिकारी ने पुलिस, राजस्व, लोनिवि, विद्युत, चिकित्सा, पशुपालन, शिक्षा, शहरी विकास, सिंचाई, एनडीआरएफ,एसडीआरएफ आदि विभागों द्वारा की जा रही तैयारियों की विस्तार से समीक्षा करते हुए महत्वपूर्ण दिशा निदेश दिये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विशाल मिश्रा, आईएएस ट्रेनी अनामिका, एसपी चन्द्रशेखर घोड़के, अपर जिलाधिकारी जय भारत सिंह, उप जिलाधिकारी राकेश तिवारी, सीमा विश्वकर्मा, मनीष बिष्ट, जिला पंचायतीराज अधिकारी आरसी त्रिपाठी, जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी उमा शंकर नेगी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।


Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page