Connect with us

उत्तराखण्ड

लालकुआ शहीदे आज़म भगत सिंह के रास्ते पर चलकर फासीवाद को मिटाने और शहीदों के सपनों का भारत बनाने का लिया संकल्प ,,


• छात्र संगठन ‘आइसा’ द्वारा भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव के शहादत दिवस 23 मार्च पर विचार गोष्ठी का आयोजन
• गोष्ठी के पश्चात आइसा की लालकुआं क्षेत्र इकाई का गठन किया गया

छात्र संगठन ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) द्वारा शहीदे आज़म भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव के शहादत दिवस 23 मार्च को लालकुआं के आंबेडकर हॉल में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। भगत सिंह और साथियों के साम्राज्यवाद विरोधी- साम्प्रदायिकता विरोधी संघर्ष को याद करते हुए क्रांतिकारी जोश-खरोश के साथ उनके विचारों के अनुरूप फासीवाद को मिटाने और अन्याय पर आधारित मौजूदा समाज व्यवस्था में आमूल परिवर्तन के रास्ते पर चलने और बराबरी पर आधारित एक समतामूलक शोषणमुक्त शहीदों के सपनों का भारत बनाने की लड़ाई को तेज करने का संकल्प लिया गया।

विचार गोष्ठी कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए भाकपा (माले) के जिला सचिव डा कैलाश पाण्डेय ने कहा कि, “आज के दौर में हमारा देश जिस स्थिति में पहुँच गया है उसमें भगत सिंह और साथियों के विचार देश के हालात को बदलने के लिए और भी प्रासंगिक हो गए हैं। ब्रिटिश उपनिवेशवाद के खिलाफ आज़ादी की लड़ाई ब्रिटिश साम्राज्यवादी कंपनी राज के खिलाफ केंद्रित थी आज के नए फासीवादी कॉरपोरेट कंपनी राज के विरुद्ध दूसरी आज़ादी की लड़ाई की जरूरत है। इसलिए अंग्रेजों के खिलाफ चली आज़ादी की लड़ाई के प्रतीक, उसके विचार, उसके नायक, उनकी विरासत और बलिदान इस दूसरी आज़ादी की लड़ाई के लिए सबसे बड़े प्रेरणा स्रोत हैं। भगत सिंह और साथियों की वैचारिक विरासत का भविष्य के भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान रहेगा।”

छात्र संगठन आइसा के संयोजक धीरज कुमार ने कहा कि, “क्रांतिकारी भगत सिंह के विचार युवाओं के सबसे बड़े प्रेरणा स्रोत हैं। छात्र और राजनीति, साम्प्रदायिक दंगे और उनका इलाज, अछूत समस्या जैसे उनके कई लेख आज भी देश की समस्याओं के समाधान के लिए रास्ता दिखाने का काम कर रहे हैं। भगत सिंह पूरे भारतीय उपमहाद्वीप के ऐसे प्रकाश स्तंभ हैं जिनके विचार क्रांतिकारी बदलाव के लिए चलने वाले किसी भी संघर्ष में रास्ता दिखाने का काम करते रहेंगे।”

गोष्ठी के पश्चात आइसा की लालकुआं क्षेत्र इकाई का चुनाव किया गया। जिसमें 9 सदस्यीय कार्यकारिणी का चुनाव किया गया जिसने अध्यक्ष विकास सक्सेना, दो उपाध्यक्ष संजना और रितेश प्रजापति, सचिव दिव्या पनेरू, सहसचिव प्रीति कुमारी , प्रचार सचिव सुहानी कोहली, इंटर कॉलेज संयोजक निखिल बोरा व कार्यकारिणी सदस्य के रूप में हेमंती, प्रियंका को चुना।

इस अवसर पर भाकपा (माले) के उधमसिंहनगर जिला सचिव ललित मटियाली, आइसा जिला संयोजक धीरज कुमार, विकास सक्सेना, दिव्या पनेरू, नेहा, सविता, मोनिका, प्रियंका, हेमा, संजना, किसान महासभा नेता गोविन्द जीना, नारायण सिंह, दिव्या, गोविन्द, रितेश प्रजापति, सागर बोरा, मेघा आर्य, पूजा कुमारी, आराधना, लक्ष्मण सिंह, सुजीत, मनोज, पायल आदि शामिल भी रहे,

Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page