Connect with us

उत्तराखण्ड

जोनल अधिकारी मतदान के लिए भय मुक्त माहौल बनाएं ,, डी एम,

हल्द्वानी
नगर निगम सभागार में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी वंदना ने नैनीताल एवं भीमताल विधान सभाओं के जोनल एवं सेक्टर मजिस्ट्रेट, MCC अनुपालन हेतु गठित टीमों तथा ARO की समीक्षा करते हुए लोकसभा सामान्य निवार्चन के कर्तव्यों एवं दायित्वों की जानकारी दी।
जिलाधिकारी ने बताया कि चुनाव में जोनल, सेक्टर मजिस्ट्रेट की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। मजिस्ट्रेट समस्त आवश्यक व्यवस्थाओं तथा निर्वाचन प्रबंधन के लिए उत्तरदायी रहेंगे।
डीएम ने कहा कि मतदाता बिना भय, निर्विघ्न शांतिपूर्ण तरीके से अपना मतदान कर सके, इस के लिए भी जोनल व सेक्टर अधिकारी की जिम्मेदारी होगी।
जिलाधिकारी ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन प्रशिक्षण में अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि चुनाव में सेक्टर मजिस्ट्रेट का मुख्य कार्य मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक आने के लिए कोई प्रभावित तो नही कर रहा है साथ ही मतदाता को बूथ तक जाने में कोई अवरोध तो नही कर रहा है, इस हेतु प्रत्येक बूथ की vulnerability mapping की जानी है, तथा इस प्रकार की समस्याओं के निवारण हेतु कार्यवाही की जानी है । उन्होंने कहा इस प्रकार के अवरोधों को दूर करना मजिस्ट्रेट की अहम जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा सेक्टर एवं जोनल अधिकारियों का निष्पक्ष और भयमुक्त माहौल में चुनाव को सम्पन्न कराना महत्वपूर्ण भूमिका है।
उन्हांने कहा मतदान बूथों पर मतदान सुचारू एवं सुगमता से हो इसके लिए बूथों की सभी व्यवस्थायें निरीक्षण कर सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सेक्टर मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी रहेगी कि मतदान केंद्र पर साफ-सफाई, स्वच्छ पेयजल, संचार तंत्र, शौचालय, वृद्धजनों हेतु रैम्प, एवं जिन बूथों के भवन आदि का भौतिक सत्यापन कर लें, और सत्यापन रिपोर्ट सोमवार तक प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने कहा कि पोलिंग पार्टी बूथ के सभी सदस्यों से सम्पर्क में रहें जिससे कि सूचनाओं आदान प्रदान हो। पीठासीन अधिकारी से समन्वय कर सभी साम्रगी सूची अनुसार लेना और भौतिक सत्यापन भी करना सेक्टर मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी होगी ताकि मतदान केंद्र पर कोई समस्या न हो ।
उन्हांने कहा इलेक्ट्रानिक मशीन यानि ईवीएम चुनाव प्रक्रिया का सबसे महत्वपूर्ण अंग है। उन्होंने कहा कि ईवीएम मशीन के लिए निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों में नियत स्थान चिन्हित किये है, विस्तृत SOP ज़ारी की गई है, उनका पालन किया जाए।
उन्होंने कहा कि समस्त सेक्टर आफीसर अपने सेक्टरों के सभी मतदेय स्थलों का भ्रमण करेंगे। सेक्टर आफीसर एवं पुलिस आफिसर संयुक्त रूप से भ्रमण करते समय आयोग के मानका अनुरूप निर्धारित प्रारूपों पर सूचना तैयार कर सोमवार तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा सेक्टर अधिकारियों को बूथों पर जो भी समस्या आती है सम्बन्धित एआरओ से सूचना देना सुनिश्चित करे, समस्या का समाधान 24 घंटे में नही होता है तो डी0ई0ओ0 को सूचना देना सुनिश्चित करें। उन्होंने समस्त जोनल एवं सेक्टर अधिकारियों से कहा कि सभी नोडल अधिकारियों के मोबाइल नम्बर लेना सुनिश्चित करें ताकि समस्या का ससमय समाधान हो सके। प्रशिक्षण में सहायक नोडल अधिकारी एमसीएमसी विशाल मिश्रा, अपर जिलाधिकारी एफआर चौहान, एआरओ नैनीताल एवं भीमताल क्षेत्र प्रमोद कुमार, तुषार सैनी के साथ ही नैनीताल एवं भीमताल विधानसभाओं के जोनल एवं सेक्टर मजिस्ट्रेट उपस्थित थे।

   
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page