Connect with us

उत्तराखण्ड

ऐच्छिक ब्यूरो के माध्यम से रिश्तो में दरार पड़ने के मामलों में पीड़ित पक्षों की सतत काउंसलिंग के माध्यम से उन्हें तनाव मुक्त कर सुलह कराया ,, एस एस पी पंकज भट्ट,,

 नैनीताल पुलिस जहॉ एक तरफ कर रही अपराध पर कड़ा प्रहार वहीं दूसरी तरफ ऐच्छिक ब्यूरो के माध्यम से मिटा रही परिवारों की दरार एस एस पी  की अध्यक्षता में पारिवारिक मामलों की काउन्सलिंग कर वर्ष 2023 में अब तक 127 परिवार हुए एक ,पंकज भट्ट, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा  वर्तमान परिवेश में घरेलू/आपसी विवाद, दहेज प्रताड़ना, पारिवारिक सामंजस्य समस्या, नशाखोरी से उपजे विवाद, मारपीट आदि समाज में बढ़ते अपराध की जटिल पारिवारिक समस्याओं के समाधान के लिए परिवारों को एक करने के उद्देश्य से ।प्रत्येक माह शिक्षाविद, कानूनविद, चिकित्सक, पुलिस  के माध्यम से काउंसलिंग।कराई जाती है।।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में ।पारिवारिक रिश्तों को बिखरने से बचाने हेतु  महिला ऐच्छिक ब्यूरो के डॉ0 युवराज पन्त *(मनोवैज्ञानिक)।काउन्सलर, डॉ0 प्रभा पन्त (शिक्षाविद। प्रो0 सदस्य एच्छिक ब्यूरो, श्री राम सिंह बसेड़ा (अधिवक्ता)पूर्व अध्यक्ष बार एसोशिएसन हल्द्वानी डॉ0 बहादुर सिंह बिष्ट *(समाजशास्त्री)* की उपस्थिति में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय बहुउद्देश्यीय भवन हल्द्वानी में महिला ऐच्छिक ब्यूरो टीम की गोष्ठी  आयोजित की गयी। 
प्रभारी महिला समाधान केन्द्र हल्द्वानी श्रीमती सुनीता कुॅवर* द्वारा महिला हेल्प लाईन में कई मामलों का निस्तारण करने के उपरान्त *10 जटिल प्रकरणों को ऐच्छिक ब्यूरो के समक्ष*  रखा गया।
      प्रकरणों में एच्छिक ब्यूरो टीम द्वारा 02 मामलों का निस्तारण, 02 मामलों में FIR तथा 06 प्रकरण में ब्यूरो द्वारा दोनों पक्षों को आपसी सहमति ना बन पाने तथा रिश्ते बचाने के लिए सोच-विचार का समय देते हुए अग्रिम तिथि दी गई।।ऐच्छिक ब्यूरो/ महिला समाधान टीम के अथक प्रयास* से *वर्ष 2023 में पति-पत्नी के मध्य आपसी मनमुटाव व कलह को दूर कर मेल- मिलाप करवाकर हंसी-खुशी परिवार के साथ रहने के लिये  127 जोड़ों को शुभकामनाओं सहित विदा* किया गया। कुल- 277 मामलों का निस्तारण किया गया।।पारिवारिक तनाव को सुलह समझाईश से बांधने का कार्य महिला ऐच्छिक ब्यूरो टीम एवं महिला समाधान प्रभारी उ0नि0 सुनीता कुॅवर व  टीम महिला आरक्षी चम्पा रावत एवं कमला गोस्वामी द्वारा बखूबी से किया जा रहा है।इसके चलते यहां  दंपती व पारिवारिक सुलह के लिए पूरी टीम मदद करने के लिए तत्पर  रहती है। रिश्तो में दरार पड़ने के मामलों में पीड़ित पक्षों की सतत काउंसलिंग के माध्यम से उन्हें तनाव मुक्त कर सुलह कराया जाता है 
Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page