Connect with us

उत्तराखण्ड

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने जल्थाकोट पहुंचकर सडक का मौका मुआयना किया, जन समस्यायें सुनी व उनका निवारण किया।,,

बागेश्वर

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने जल्थाकोट पहुंचकर सडक का मौका मुआयना किया तथा जन समस्यायें सुनी व उनका निवारण किया। उन्होंने जल्थाकोट-चमडथल 08 किमी. स्वीकृत रोड पर कार्य पूर्व एलाईमेंट के अनुसार ही कार्य प्रारंभ करने के निर्देश लोनिवि अभियंता को मौके पर दिए। उन्होंने कहा कि बंतोली को लिंक मार्ग से जोडा जायेगा।

जिलाधिकारी ने जनता की मांग पर घिघारूतोला-जल्थाकोट सड़क पर कलमठ व पुलिया बनाने के निर्देश भी लोनिवि को दिए साथ ही सीसी मार्ग, खडंजा मार्ग का प्रस्ताव बनवाने के निर्देश उपजिलाधिकारी को मौके पर दिए। विवाद के चलते जल्थाकोट गांव वासियों की मुख्य समस्या जल्थाकोट से चमडथल 08 किमी. स्वीकृत सड़क पर लोनिवि को प्रथम चरण पर 1.9 किमी. हेतु धनराशि उपलब्ध हुई है, अब तक मात्र 900 मीटर ही सडक कट पायी है। ग्रामवािसायों के विवाद के चलते एक किमी. सडक जिसकी धनराशि उपलब्ध है पर कार्य नहीं हो पाया, जिस पर जिलाधिकारी ने भ्रमण के दौरान गांववासियों को मौके पर समझाते हुए कहा कि आपसी विवाद के कारण गांव के विकास कार्य बाधित होते हुए, इसलिए सभी समन्वय बनाए व सडक का कार्य प्रारंभ करें। उन्होंने मौके पर लोनिवि अभियंता को तुरंत टैण्डर करते हुए कार्य प्रारंभ करने के निर्देश दिए। उन्होंने जल्थाकोट का तोक बंतोली को सडक लिंक मार्ग से जोडने हेतु सर्वे करने के निर्देश लोनिवि को दिए। ग्राम प्रधान ममता तिवारी ने घिघारूतोला-जल्थाकोट सडक मार्ग पर एक छोटी पुलिया के साथ ही कलमठ बनाने की मांग रखी। उन्होंने 300 मीटर सीसी मार्ग खडंजा व ग्राम पंचायत भवन भी बनाने का अनुरोध किया, जिस पर जिलाधिकारी ने पुलिया व कलमठ बनाने के निर्देश लोनिवि को दिए साथ ही सीसी खडंजा मार्ग व पंचायत भवन का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए।
क्षेत्रवासियों द्वारा खडिया माईन्स में मानको के अनुसार कार्य न होने, खडिया प्रबंधको द्वारा पत्थर बेचने, गधेरों में मिट्टी डालने व रात्रि के समय मशीनों द्वारा कार्य करने से हो रही परेशानी से भी जिलाधिकारी को अवगत कराया, जिस पर जिलाधिकारी ने गांववासियों को अवैध खनन होते हुए देखने व रात्रि में मशीने संचालित होने की तुरंत शिकायत राजस्व अधिकारियों को करने को कहा, यदि अवैध गतिविधियां पायी गयी तो सख्त कार्रवाई की जायेगी।
क्षेत्रवासी चनर राम ने वर्षाकाल में खनन के मलवे से मकान क्षतिग्रस्त होने साथ ही आधार कार्ड व राशन कार्ड न बनने के कारण राशन उपलब्ध न होने की भी शिकायत की, जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को क्षतिग्रस्त मकान की जांच करने के साथ ही आधार कार्ड व राशन कार्ड बनवाने के निर्देश मौके पर दिए।

इस दौरान उपजिलाधिकारी हरगिरि, जिला पंचायत सदस्य गोपा धपोला, ग्राम प्रधान ममता तिवारी, संतोष धफौटी, सहायक अभियंता लोनिवि सहित ग्राम वासी मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page