Connect with us

उत्तराखण्ड

शीतलहर से कोई जनहानि न हो, इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से की चाक-चौबन्द व्यवस्था,,

रुद्रपुर शीतलहर से कोई जनहानि न हो, इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से चाक-चौबन्द व्यवस्था की जा रही है। इन व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए जिलाधिकारी उदयराज सिंह ने गांधी पार्क के पास स्थित रैन बसेरे तथा नगर निगम द्वारा विभिन्न स्थानों जलाए जा रहे अलाव का औचक निरीक्षण किया।
उन्होंने बस स्टेशन पहुंचकर आसपास मौजूद लोगों को बताया कि शीतलहर में आश्रय स्थल/शेल्टर होम में आश्रय ले सकते हैं । उन्होंने बस स्टैंड के अंदर सीमेंट तथा लोहे की बेंचो के ठंडा होने तथा यात्रियों के लिए शीतलहर से बचाव हेतु उचित व्यवस्था न होने पर जिलाधिकारी ने 5 जनवरी तक बस स्टैण्ड के अंदर ही अलाव जलाने और बस स्टैण्ड के पास जल रहे अलाव को गेट के नजदीक शिफ्ट करने के निर्देश दिए। उन्होंने रेन बसेरे का भी निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि रुकने वाले यात्रियों के आधार कार्ड या पहचानपत्र जरुर चेक किए जाएं। उन्होंने सडक किनारे चिन्हित स्थलों पर चल रहे अलाव का भी निरीक्षण किया। सभी चिन्हित 16 जगहों पर अलाव जलते हुए पाए जाने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अलाव व्यवस्था की जिला स्तर पर आपदा कंट्रोल रूम के माध्यम से निगरानी की जा रही है और प्रतिदिन अलाव जलने की फोटोग्राफ ली जा रही हैं।
जिलाधिकारी के निर्देशन में जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी, एसडीएम तथा नगर निगम व पालिकाओं की टीम लगातार जरूरतमंदों को कम्बल किए जा रहे हैं। उन्होंने जनपद में चिन्हित सभी स्थलों पर अलाव जलाये जाने के निर्देश दिए।
नगर आयुक्त नरेश दुर्गापाल ने बताया कि रैन बसेरे के जीरिए जरूरतमन्दों को आश्रय मिल रहा है और अब तक39 व्यक्ति आश्रय ले चुके हैं।
इस दौरान नगर आयुक्त नरेश दुर्गापाल, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी उमा शंकर नेगी, जिला सूचना अधिकारी अहमद नदीम आदि उपस्थित थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page