Connect with us

उत्तराखण्ड

अब्दुल मतीन सिद्दीक़ी ने नैनीताल मेट्रोपोल पर लम्बे अर्से से रह रहे लोगों को उक्त स्थान से शत्रु सम्पत्ति के नाम पर उजाड़े जाने की प्रक्रिया का कड़े शब्दों में विरोध जताया,,

समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रभारी अब्दुल मतीन सिद्दीक़ी ने नैनीताल मेट्रोपोल पर लम्बे अर्से से रह रहे लोगों को उक्त स्थान से शत्रु सम्पत्ति के नाम पर उजाड़े जाने की प्रक्रिया का कड़े शब्दों में विरोध जताते हुए कहा कि जहाँ एक ओर भाजपा की केन्द्र एवं प्रदेश सरकार हर परिवार को पक्का मकान देने की घोषणायें कर रही है। वहीं दूसरी ओर कई पीड़ियों से मेट्रोपोल में रह रहे लग-भग 150 परिवारों को शत्रु प्रॉपर्टी के नाम पर बेघर करने की कार्यवाही चल रही है ।जोकि सरासर ग़लत है ।यहीं भाजपा की कथनी और करनी का अन्तर साफ़ दिखाई देता है।श्री सिद्दीक़ी ने कहा जहाँ एक ओर पर्वतीय इलाकों में भारी बारिश की वजह से आपदा जैसे हालात है। वहाँ स्थानीय प्रशासन डेढ़ से दो हज़ार लोगों को बेघर करने पर तुला है।श्री सिद्दीक़ी ने कहा की उक्त स्थान पर रहने वाले लोगों का कहना है कि उक्त प्रॉपर्टी राजा महमूदाबाद की थी।जिसे स्थानीय प्रशासन शत्रु सम्पत्ति बता रहा है।श्री सिद्दीक़ी ने कहा की भाजपा सरकार में आधिकारियों पर कोई अंकुश नहीं है।प्रशासन कमज़ोर तबके के लोगों को चाहे वह हिन्दू हों , मुसलमान हों या फिर अन्य समाज के हों उनकी वर्षों की मेहनत की कमाई से बनाये गये आशियानों को तोड़ने या उन्हें बेदख़ल करने का अघोषित अभियान चला रखा है।श्री सिद्दीक़ी ने कहा कि नियम व कानूनो का पालन करना हर भारतीय का कर्तव्य है।लेकिन कभी-कभी विपरीत परिस्तिथियों में भी मानवीय दृष्टिकोण रखते हुए भी कई कामो को अनदेखा भी किया जाता है।श्री सिद्दीक़ी ने कहा कि मेट्रोपोल में देश की आज़ादी से भी पूर्व से रह रहे परिवार भी है।स्थानीय प्रशासन को उनकी पीड़ा सुनकर उसका सम्मान जनक समाधान निकालना चाहिये।श्री सिद्दीक़ी ने कहा कि यदि उक्त परिवारों को हटाना बहुत आवशयक है तो पहले उनके पुर्निवास की उचित व स्थायी व्यवस्था होनी चाहिये।क्योंकि जहाँ इस भारी बरसात के मोसम में लोगों का जीवन वैसे ही अस्त व्यस्त है।एसे में लोगों को बेघर करना मानवीय दृष्टिकोण से भी सरासर ग़लत है।श्री सिद्दीक़ी ने कहा कि इस भारी बरसात के मौसम में किसी भी परिवार को बेघर करना मानवता के भी विरुद्ध है।और यदि प्रशासन फिर भी ऐसे कार्यों की पुनरावर्ती करता है।तो इसका कड़ा विरोध किया जायेगा।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page