Connect with us

उत्तराखण्ड

खुद को सीबीआई का अधिकारी बताकर नगदी एवं ज्वेलरी को बदलने वाले लिफाफा गैंग के दो और सदस्यों को रामनगर थाना पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

         

विगत वर्ष सितंबर -2022 में शिकायतकर्ता श्रीमती टोनी सक्सेना, निवासी काशीपुर उ0सि0नगर द्वारा रामनगर पुलिस को तहरीर दी गई कि दिनांक 20-09-2022 को रामनगर से हल्द्वानी जाते समय कुछ व्यक्तियो द्वारा रामनगर बस अड्डे में स्वयं को यह कहकर कार में लिफ्ट दी कि वह सीबीआई के अधिकारी हैं तथा उक्त महिला को अति शीघ्र हल्द्वानी छोड़ देंगे। उक्त व्यक्तियों पर विश्वास करके महिला उनकी कार में लिफ्ट लेकर बैठ गई। इसी दौरान रास्ते में उनके द्वारा यह कहकर कार में सवार महिला को भरोसा दिलाया कि वह किसी मामले की दबिश/रेड में जा रहे हैं अतः उनके पास यदि कोई कैश या ज्वेलरी हो तो वह एक बंद लिफाफे में रखकर अपने बैग में संभाल कर रख ले। क्योंकि सुरक्षा कारणों की वजह से उन्हें ऐसा करना पड़ता है अन्यथा उनके अधिकारियों को लगेगा कि हम जहां दबिश देने जा रहे हैं उनसे मिले पड़े हैं। भरोसा करके महिला ने स्वयं के पास मौजूद नगद 90000 रुपए एवं हाथों में पहने दो पीली धातु के कंगन निकालकर उनके द्वारा दिए गए लिफाफे में रख दिए और जब कुछ समय पश्चात महिला ने अपने बैग में रखें उक्त बंद लिफाफे को चेक किया तो उसमें महज कागजों के टुकड़ों के अलावा कुछ नहीं मिला। शक होने पर जब महिला ने इसका विरोध किया तो उनके द्वारा महिला को रास्ते में ही उतार कर फरार हो गए।
पुलिस को मिली तहरीर के आधार पर थाना रामनगर पर मु0 एफआईआर नं0- 393/22, धारा 420 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया।
एसएसपी नैनीताल द्वारा क्षेत्राधिकारी रामनगर श्री बलजीत सिंह भाकुनी के पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक रामनगर को उक्त लिफाफा गैंग की तलाश एवं मुकदमे के शीघ्र अनावरण करने के निर्देश दिए गए।
प्रभारी निरीक्षक रामनगर श्री अरुण कुमार सैनी के कुशल नेतृत्व में पुलिस टीम गठित कर अनेकों सीसीटीवी खंगालने पर घटना में प्रयुक्त एक संदिग्ध वाहन सं0- DL7CL-0406 नं0 प्राप्त हुआ। जिसकी जांच पड़ताल करने पर अभियुक्त गण
कमल उर्फ अली उर्फ सोनू उर्फ इंद्र पुत्र आनंदराम निवासी 34/397 त्रिलोकपुरी थाना मयूर विहार दिल्ली,
-प्रेमसागर पुत्र किशन लाल निवासी 10/158 खिचड़ीपुर मयूर विहार दिल्ली
-रोशन पुत्र पूरनमासी निवासी 35/477 त्रिलोकपुरी दिल्ली का नाम प्रकाश मे आना पाया गया।
जिनकी गिरफ्तारी हेतु अथक प्रयास किये गये व NBW वारण्ट भी जारी करवाए गए थे परन्तु अभियुक्तगण लगातार फरार चल रहे थे।
मासिक अपराधों की समीक्षा के दौरान एसएसपी नैनीताल श्री प्रहलाद नारायण मीणा द्वारा उक्त मुकदमे में तेजी लाए जाने हेतु अधीनस्थों को निर्देशित किया गया जिसके परिणाम स्वरूप नैनीताल पुलिस द्वारा लिफाफा गैंग के मुख्य सरगना अभियुक्त कमल उर्फ सोनू को पूर्व में गिरफ्तार कर मा0न्यायालय पेश किया गया हैं और इसी क्रम में शेष फरार अभियुक्त

  1. प्रेमसागर पुत्र किशन लाल निवासी 10/158 खिचड़ीपुर मयूर विहार दिल्ली। -रोशन पुत्र पूरनमासी निवासी 35/477 त्रिलोकपुरी दिल्ली को कल दिनांक 1 नवंबर 2023 को दिल्ली से गिरफ्तार कर आज माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।
    गिरफ्तार अभियुक्तो का अपाधिक इतिहास ज्ञात करने पर पता चला कि इनके द्वारा एक बार पुनः उक्त घटना को गोरखपुर मे भी अन्जाम दिया गया है। पुलिस टीम में अरुण कुमार सैनी, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रामनगर – उ0नि0 जोगा सिहं कोतवाली रामनगर।- हे0कानि0 ना.पु. अनिल कुमार – कोतवाली रामनगर शामिल।
Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page