Connect with us

उत्तराखण्ड

लोकसभा चुनाव को लेकर आज दो पालियों में 400, लोगो को दिया गया प्रशिक्षण,,

हल्द्वानी ।,,लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 की तैयारियों को लेकर एमबीपीजी कालेज लालबहादुर शास्त्री सभागार में व्यय निगरानी तंत्र की टीमे एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी, वीवीपीटी, मास्टर ट्रेनर द्वारा दो पालियो में लगभग 400 लोगों को प्रशिक्षण दिया गया।
प्रशिक्षण में परियोजना निर्देशक हिमांशु जोशी ने कहा कि निर्वाचन में अनाधिकृत व्यय को प्रभावी ढ़ंग से रोकने हेतु व निर्वाचन नियमों को उल्लघन करने पर नियमानुसार त्वरित उचित कार्यवाही करना व्यय निगरानी तंत्र का दायित्व है ताकि निर्वाचन को निष्पक्ष, शांतिपूर्ण पारदर्शिता से सम्पन्न कराया जा सकें। उन्होने कहा कि सभी टीम सदस्य प्रशिक्षण को गम्भीरता से ले तथा किसी भी प्रकार की शंका हो तो उसका सामाधान निर्वाचन पूर्व प्रशिक्षणों में अवश्य कर ले ताकि निर्वाचन के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या अथवा कठनाई का सामना न करना पड़े। उन्होने कहा कि सभी टीमें समन्वय बनाते हुये टीम भावना से दायित्वो का निर्वहन करेगें। निर्वाचन के दौरान किसी भी प्रकार की जांच आदि कार्यो की वीडियोग्राफी अवश्य की जाये। उन्होने कहा कि निर्वाचन की घोषणा होते ही उड़न दस्ता सक्रिय हो जाते है तथा सभी प्रकार की शिकायतों का तत्काल निराकरण उड़न दस्ते द्वारा किया जायेगा कार्यो की वीडियोग्राफी अनिवार्य रूप की जाये साथ ही सभी टीमे कार्यो की प्रतिदिन रिपोर्ट ससमय भेजना भी सुनिश्चित करेंगे ताकि प्रत्याशियों का व्यय लेखा-जोखा रखा जा सकें।
नोडल अधिकारी व्यय नियंत्रक वित, अनिता आर्या ने कहा कि लोकसभा सामान्य निर्वाचन के लिये सभी टीमें अपनी-अपनी तैयारिया कर ले जो भी दायित्व सौपे गये है उनका ससमय निर्वहन करना सुनिश्चित करेगें। उन्होने कहा कि निर्वाचन आयोग का प्रयास होता है कि सभी प्रत्याशियों को समान अवसर मिले इस लिये निर्धारित व्यय के अनुसार निर्वाचन सम्पन्न हो किसी प्रकार प्रलोभन व अनुचित धन का प्रयोग न हो इसके लिये व्यय तंत्र की सभी टीमे सक्रियता से आयोग के निर्देशानुसार कार्यो का संचालन करेगें। उन्होने कहा कि जनपद में 6 विधानसभा वार टीमो का गठन किया गया है सभी आपस में समन्वय स्थापित करते हुये कार्यो का सम्पादन करेगें। उन्होने कहा निर्वाचन के दौरान सभी टीमे अपना व्यवहार सौहार्दपूर्ण व शालीन रखेगें ताकि कार्यो में किसी की समस्याओं व बाधाओं का सामना न करना पड़े। उन्होने कहा कि कैश व सामाग्री की सीजर कार्यवाही नियमानुसार करेगें तथा सभी प्रपत्रो को सावधान से भरेगें व सभी कार्यो की वीडियोग्राफी अवश्य करायेगें। प्रशिक्षण में कोषाधिकारी इन्दर सिंह के साथ ही विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page