Connect with us

उत्तराखण्ड

सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को समाज के अन्तिम छोर के व्यक्ति तक पहुंचाना मुख्य उददेश्य,मजहर नईम नवाब

रामनगर/हल्द्वानी – विकास खण्ड सभागार रामनगर में उपाध्यक्ष उत्तराखण्ड अल्पसंख्यक आयोग मजहर नईम नवाब ने जनजानकारी अभियान कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुये कहा कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को समाज के अन्तिम छोर के व्यक्ति तक पहुंचाना मुख्य उददेश्य है। उन्होंने कहा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को अधिक से अधिक प्रसार-प्रसार के साथ ही जनपदों के ब्लॉक स्तर पर शिविर लगायें जायें ताकि लोगों को जानकारी मिले इसके लिए समाज में अल्पसंख्यकों के साथ ही गरीब तबके के लोगों को इसका लाभ मिल सके।
उपाध्यक्ष श्री नवाब ने जनजानकारी अभियान कार्यक्रम में अनुपस्थित अधिकारियों का स्पष्टीकरण तलब किया। उन्होंने कहा ब्लाक एवं नगर पालिका स्तर पर प्रदेश के सभी ब्लाकों मे जनजानकारी अभियान कार्यक्रम किये जायेंगे। उन्होंने ब्लाक स्तर के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं की पूरी जानकारी अधिकारियों को होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जनकल्याणकारी योजनाओं में कोताही बरतने पर अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित की जायेगी। श्री नवाब ने कहा कि प्रदेश में देहरादून, हरिद्वार एवं उधमसिंह नगर की स्वयंसेवी संस्थायें अव्वल कार्य कर रही है, हम चाहते हैं कि जनपद नैनीताल की स्वयंसेवी संस्थायें भी इसी तरह कार्य करें। इससे गरीब महिलाओं को रोजगार के साथ ही उनकी आर्थिकी भी मजबूत होगी।
उपाध्यक्ष श्री नवाब ने ब्लाक स्तर से प्रधानमंत्री जनविकास योजना के तहत कोई प्रस्ताव नही आने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये कि शीघ्र ही प्रस्ताव विधायक व ब्लाक प्रमुख के स्तर से भेजने के निर्देश दिये। ब्लाक रामनगर में अल्पसंख्यक की पेंशन प्रकरण व अन्य योजनाओं में खामियां मिलने पर उपाध्यक्ष से 27 जनवरी को सम्पूर्ण अभिलेखों के साथ एडीओ को हल्द्वानी कार्यालय में तलब किया है। जीपीएस खताडी विद्यालय में 499 बच्चों मे एक शिक्षक होने पर उपाध्यक्ष ने खण्ड शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि शीघ्र ही जिन स्कूलों में अतिरिक्त शिक्षक है उनकी तैनाती की जाए साथ ही एक प्रस्ताव भी बनाया जाए ताकि विद्यालय में शिक्षक की तैनाती की जा सके।
कार्यक्रम मे उपाध्यक्ष अल्पसंख्यक आयोग द्वारा 65 मुख्यमंत्री हुनर योजनाओं के तहत लाभार्थियों को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किये गये।
इसके उपरान्त श्री नवाब द्वारा उद्यान विभाग की नर्सरी का निरीक्षण किया गया। विभाग द्वारा दिये जा रहे आवंला, मुरब्बा व अचार की ट्रेनिंग छोटे से कमरे में दी जा रही थी जिससे लोगों को काफी कठिनाई हो रही थी। जिस पर उपाध्यक्ष से शीघ्र प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये ताकि ट्रेनिंग हेतु कमरे की व्यवस्था हो सके।
क्षेत्रीय विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने कहा कि सरकार द्वारा जो भी जनकल्याणकारी योजनायें चलाई जा रही है इन योजनाओं को समाज में गरीब तबके के लोंगो तक पहुचाने के लिए अधिकारियों के साथ ही जनप्रतिनिधियों को पूरे समन्वय के साथ कार्य करना होगा, तभी हम इन योजनाओं का लाभ दे सकते हैं।
कार्यक्रम में समाज कल्याण विभाग, पूर्ति, पुलिस, उद्यान, कृषि, बाल विकास, महिला कल्याण, मत्स्य,शिक्षा, श्रम विभाग के साथ ही आदि विभागों की विस्तृत समीक्षा की गई।

कार्यक्रम में ब्लाक प्रमुख रेखा रावत, ज्येष्ठ प्रमुख संजय नेगी, अध्यक्ष नगर पालिका हाजी मौ0 अकरम, जिला पंचायत सदस्य किशोरी लाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 भागीरथी जोशी,उपजिलाधिकारी गौरव चटवाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी दीपांकर घिडियाल, परियोजना निदेशक अजय सिंह, महाप्रबन्धक उद्योग सुनील कुमार पंत के साथ ही कामननीड एजूकेशन एण्ड वेलफेयर समिति व अल्पसंख्यक एवं पिछडा वर्ग विकास समिति के सदस्यों के साथ ही सैकडों की संख्या में अल्पसंख्यक महिलायें एवं पुरूष मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page