Connect with us

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी- बनभूलपुरा मामले में एस एस पी मीणा ने किया खुलासा,

एस०एस०पी० नैनीताल की टीम ने बनभूलपुरा से अपहृता बालिकाओं को किया सकुशल बरामद, अपहरण में शामिल 05 आरोपी गिरफ्तार

हल्द्वानी। घटना का संक्षिप्त विवरण- दिनाँक 21/06/2024 को श्रीमति राथा गोस्वामी w/o श्री स्व० रविन्द्र नाथ गोस्वामी निवार वार्ड न०- 14. जवाहर नगर, थाना वनभूलपुरा जिला नैनीताल द्वारा थाना हाजा पर तहरीर दी थी कि उसकी पुः उम्र 15 वर्ष व किरायेदार की पुत्री उम्र 12 वर्ष दिनाँक 20/06/2024 को समय लगभग 7.00 बजे सांय घर से बिना बताये कर चले गये है. जो अभी तक घर वापस नहीं आये है. उक्त सूचना पर तत्काल थाना हाजा पर FIR NO 134/2024 U/S 36 IPC बनाम अज्ञात पंजीकृत कर विवेचना उ०नि० विनोद घई के सुपुर्द की गयी।

पुलिस द्वारा की गयी कार्यवाही- मुकदमा उपरोक्त से सम्बन्धित दोनो नाबालिक लडकियो की गुमशुदगी की संवेदनशीलत के दृष्टिगत श्री प्रहलाद नारायण मीणा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल के निर्देशन व श्री प्रकाश चन्द्र पुलिस अधीक्षव नगर हल्द्वानी व श्री नितिन लोहनी क्षेत्राधिकारी नगर हल्द्वानी के पर्यवेक्षण तथा श्री नीरज भाकुनी थानाध्यक्ष बनभूलपुरा दे नेतृत्व मे तत्काल एसओजी व सर्विलांस को सम्मिलित करते हुये 04 टीमों का गठन किया गया। टीमों द्वारा मामले क गम्भीरता को देखते हुये गुमशुदाओं के रिश्तेदारों, सगे सम्बन्धी के बारे में जानकारी करते हुये सभी सम्भावित स्थानो प तलाश किया गया तथा गुमशुदाओं के घरो के आस पास, रोडवेज, रेलवे स्टेशन आदि स्थानों के सीसीटीवी चैक किये गां जिससे गुमशुदाओं का रोडवेज स्टेशन हल्दानी से 01 लडके के साथ ई- रिक्शा में बैठक मंगलपडाव की तरफ जाते हु दिखायी देना ज्ञात हुआ। नाबालिक लडकियों के साथ ई-रिक्शा में जाने वाले संदिग्ध लड़के के सम्बन्ध में जानकारी की गर्य तो उक्त लडके की पहचान 16 वर्षिय बालक निवासी जवाहर नगर थाना वनभूलपुरा के रूप में हुई। टीमो द्वारा गुमशुदा संदिग्ध बालक उपरोक्त के रिश्तेदारों, दोस्तो, पहचान वालो आदि से गहन पूछताछ की गयी तथा गुमशुदा बालिकाओं /संदिग्ध बालक के मोबाईल नम्बर प्राप्त कर सर्विलांस टीम के माध्यम से लोकेशन व सीडीआर प्राप्त की गयी जिनक अवलोकन किया गया। उक्त बालक की लोकेशन सहसवान जिला बदायू में ज्ञात होने पर तत्काल गठित पुलिस टीमो कं बदायूं, बरेली के अलावा अन्य स्थानों काशीपुर, मुरादाबाद, दिल्ली भेजकर गुमशुदाओ की तलाश की गयी तथा उक्त क्षेत्रों में गुमशुदाओ व संदिग्ध बालक के रिशतेदार, पहचान वाले, दोस्तो सभी के घर जाकर तलाश तथा पूछताछ की गयी। जनपर बदायूँ रवाना पुलिस टीम की पूछताछ के दौरान संदिग्ध बालक द्वारा दोनो गुमशुदा लडकियों को लेकर अपनी बहन निशा उर्फ नूरीन पल्लि उजैर उर्फ आसिफ निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश के द्वारा उक् नाबालिगों को यह जानते हुए भी कि वह घर से अपृहत हैं, को अपने घर में छुपाकर रखा गया और बालक की बहन नूरीन उर्फ निशा व उसके पति उजैर उर्फ आसिफ के द्वारा बालक के मामा मौ० अब्दुल शमी उर्फ भोला को सूचना देते हुए अवगत कराया गया। उसके उपरान्त इन सभी के द्वारा आपराधिक षड्यन्त्र करते हुए उक्त अपहर्ता बालिकाओं के सम्बन्ध में पुलिस को गुमराह करते हुए उन्हें किसी अन्य स्थान पर भेज दिया गया और जिसके द्वारा पुलिस को कोई सूचना नहीं दें गयी थी और मामले को छिपाया गया था। इसके पश्चात पुलिस टीमो द्वारा उझानी, बदायू, बरेली, काशीपुर, मुरादाबाद, दिल्ल के सभी सम्भावित बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन व अन्य स्थानों के लगभग 200-250 सीसीटीवी कैमरे चैक किये गये जिससे गुमशुदाओ व संदिग्ध बालक ट्रेन से बैठकर बरेली से दिल्ली जाना ज्ञात हुआ तथा गुमशुदाओं की तलाश हेतु मुखबिर मामूर किये गये पुलिस टीमो द्वारा गुमशुदाओ व संदिग्ध बालक की तलाश हेतु सुरागरसी पतारसी के दौरान थानाध्यक्ष बनभूलपुरा नीरज भाकुनी के नेतृत्व में एसओजी प्रभारी व अन्य नियुक्त पुलिस टीम द्वारा आज दिनाँक 25/06/2024 को मुखबिर की सूचना पर दोनों अपहृत बालिकाओं को रेलवे स्टेशन मंसूरपुर मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश से बरामद किया गया व विधि का उल्लघन करने वाला बालक उपरोक्त को संरक्षण में लिया गया और इनके साथ मौजूद आमिल को भी इस प्रकरण मे पूछताछ हेतु हल्दानी लेकर आये।

अपहर्ताओ से की गयी पूछताछ पर पाया गया कि आमिल द्वारा ही उक्त नाबालिग अपहृत बालिकाओं एव उक्त विधि विवादित किशोर को 02 दिन तक अपने घर में छिपाकर रखा गया एंव उन्हें भगाने में सहयोग करते हुए भागने के लिए 2000 रूपये भी दिए गये। निशा, उजैर उर्फ आसिफ व अब्दुल समी उर्फ भोला जिन्हें वृहद पूछताछ हेतु थाने तलब किया गया था, से विस्तृत पूछताछ पर निशा, उजैर उर्फ आसिफ व अब्दुल समी उर्फ भोला द्वारा अपहृत/गुमशुदा नाबालिग बालिकाओ व बालक के बारे मे पूर्ण जानकारी होने के उपरान्त भी अपहृत नाबालिक लडकियो को शरण देने तथा इनको छिपाने में मदद करने तथा अपहृत/गुमशुदा लडकियो के परिजनो तथा पुलिस प्रशासन को कोई सूचना नहीं देने के तथ्य प्रकाश में आये जिस कारण मुकदमा उपरोक्त में निशा उर्फ नूरीन पनि उजैर उर्फ आसिफ निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बढाए उत्तर प्रदेश व उजैर उर्फ आसिफ पुत्र हफीज अहमद निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश व अब्दुल् समी उर्फ भोला पुत्र अब्दुल रशीद निवासी ताठन० 17 थाना बनभूलपुरा व आमित उपरोक्त को अन्तर्गत धारा 368/120 भादवि हिरासत पुलिस में लिया गया।

नाबालिको को गुमराह कर भगाने/ संरक्षण देने वाले अभियुक्त गण-

1-आमिल पुत्र अमीर हसन निवासी ग्राम बिहारी थाना सिखेडा जिला मुजफ्फरनगर उ०प्र०

2-निशा उर्फ नूरीन पनि उजैर उर्फ आसिफ निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश 3-उजैर उर्फ आसिफ पुत्र हफीज अहमद निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश

4-अब्दुल समी उर्फ भोला पुत्र अब्दुल रशीद निवासी ला०न० 17 थाना बनभूलपुरा

5- विधि का उल्लघन करने वाला बालक-

पुलिस टीम का विवरण-

बदायूं क्षेत्र। ०नि० नीरज भाकुनी थानाध्यक्ष बनभूलपुरा।- उ०नि० संजीत राठौर प्रभारी एस०ओ०जी०।- उ०नि० दिनेश जोशी चौकी प्रभारी मंगलपडाव कोतवाली हल्द्वानी। हे०कानि० इशरार नवी बहुद्देशीय भवन- हे०का० ललित श्रीवास्तव एस० ओ०जी० हल्द्वानी। 6कानि० राजेश बिष्ट (सर्विलांस सर्पोर्ट एस०ओ०जी०हल्द्वानी

दिल्ली क्षेत्र –- उ ०नि० जगदीप नेगी थानाध्यक्ष भीमताल। उ०नि० गौरव जौशी कोतवाली लालकुँआ-कानि० अरुण राठौर कोतवाली हल्द्वानी। कानि० नवीन राणा कोतवाली हल्द्वानी।

काशीपुर क्षेत्र उ ०नि० फिरोज आलम थाना काठगोदाम उ ०नि० मनोज कुमार काठगोदाम-कानि० संतोष बिष्ट काठगोदाम-कानि० कारज सिंह काठगोदाम

बरेली क्षेत्र – उ०नि० विरेन्द्र चन्द्र थाना बनभूलपुरा उ०नि० अनिल कुमार बनभूलपुरा कानि० महबूब आलम बनभूलपुरा – कानि० मुनेन्द्र बनभूलपुरा। कानि० शिवम बनभूलपुरा – पुलिस टीम के उपरोक्त उत्कृष्ट कार्य के लिये पुलिस महानिदेशक महोदय द्वारा 20000 रूपया व पुलिस उपमहानिरीक्षक कुमायूं परिक्षेत्र द्वारा 5000 रूपया व पारितोषित प्रदान करने की घोषणा की गयी है।

Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page