Connect with us

उत्तराखण्ड

प्रेमचंद अग्रवाल ने वनाग्नि समस्या के निराकरण, नैनीताल की ट्रैफिक व्यवस्था सुदृढ़ीकरण और नैनीताल में साफ सफाई के संबंध में की बैठक ।,

नैनीताल

माननीय मंत्री वित्त, शहरी विकास एवं आवास, विधायी एवं संसदीय कार्य, जनगणना एवं पुनर्गठन उत्तराखंड सरकार प्रेमचंद अग्रवाल ने देर रात राज्य अतिथि गृह नैनीताल क्लब में वनाग्नि समस्या के निराकरण, नैनीताल की ट्रैफिक व्यवस्था सुदृढ़ीकरण और नैनीताल में साफ सफाई के संबंध में बैठक की।

बैठक में माननीय मंत्री ने वनाग्नि की गंभीरता के दृष्टिगत प्रभागीय वनाधिकारी, नैनीताल के साथ विस्तृत चर्चा की और वनाग्नि की घटनाओं के कारणों को गहराई से जाना। माननीय मंत्री ने कहा सभी अधिकारी वर्तमान में हुई वनाग्नि की घटनाओं से सीख लेकर भविष्य को बेहतर बनाने का प्रयास करें। प्रभागीय वनाधिकारी ने बताया कि विभाग द्वारा संसाधनों के परिप्रेक्ष्य में बेहतर प्रयास किया गया है। सेटेलाइट के माध्यम से 6-6 घंटों के अंतराल में वन क्षेत्र की निगरानी की जाती है और वनाग्नि की जानकारी प्राप्त होने पर त्वरित गति से उसके निराकरण की कार्रवाई की जाती है।

बैठक में ईओ नगर पालिका नैनीताल को तत्काल प्रभाव से पर्यटक नगरी नैनीताल के अंतर्गत पर्यटन सीजन में प्रत्येक दिन में 3-3 शिफ्टों में नालों की और सड़कों की साफ सफाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा यहां साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। नैनीताल आने वाले पर्यटक यहां से अच्छा संदेश लेकर जाएं।

माननीय मंत्री ने कहा पर्यटन नगरी में लगातार पर्यटकों का आगमन बढ़ता जा रहा है, इसके दृष्टिगत ट्रैफिक की समस्या से छुटकारा पाने के लिए शासन-प्रशासन द्वारा निरंतर किए जा रहे प्रयासों को ओर बेहतर करने की आवश्यकता है।

माननीय मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा सभी विभागीय अधिकारियों का सौभाग्य है कि उन्हें सेवा करने का अवसर प्राप्त हुआ है, इसलिए आप सभी अपनी जिम्मेदारियां का निर्वाहन पूर्ण जिम्मेदारी के साथ करें। यहां आने वाले पर्यटकों को शासन-प्रशासन की ओर से किसी प्रकार की समस्या न हो इसका भी विशेष ध्यान दें।

माननीय मंत्री ने प्रातः काल नैना देवी मंदिर और कैंची धाम मंदिर में राज्य की उन्नति के लिए पूजा अर्चना की।

माननीय मंत्री ने नैनीताल झील में वोटिंग का भी लुत्फ उठाया। उन्होंने कहा नैनीताल झील अपने प्राकृतिक सौंदर्य से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यहां आ रहे पर्यटकों से न सिर्फ नैनीताल का मान बढ़ा है, बल्कि स्थानीय लोगों को होमस्टे, ट्रैवलिंग, वोटिंग आदि अन्य प्रकार से रोजगार के अवसर भी प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा रोजगार के लिए सरकारी नौकरी ही नहीं अन्य बहुत से ऐसे क्षेत्र हैं, जहां से आजीविका के साधन जुटाए जा सकते हैं।

इसके बाद माननीय मंत्री ने आपातकाल दिवस- 25 जून पर आयोजित संगोष्ठी कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। यहां उन्होंने 25 जून, 1975 में लगाए गए आपातकाल की कड़ी निंदा की और इस पर अपना मंतव्य संगोष्ठी में उपस्थित लोगों के मध्य व्यक्त किया।

इस अवसर पर नैनीताल विधायक सरीता आर्या, जिला अध्यक्ष भाजपा प्रताप सिंह बिष्ट, मनोज जोशी, प्रभागीय वनाधिकारी नैनीताल, एसपी नैनीताल हरबंस सिंह, उप जिलाधिकारी प्रमोद कुमार, उप जिलाधिकारी धारी, तहसीलदार नैनीताल, नगर पालिका ईओ नैनीताल, सहित आर्य ने अधिकारी उपस्थित रहे।

Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page