Connect with us

उत्तराखण्ड

भारत सरकार गृह मंत्रालय की टीम ने मैट्रोपोल तथा अन्य शत्रु संपत्ति के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ की बैठक,,

नैनीताल

नैनीताल क्लब सभागार में केंद्र सरकार की ओर से शत्रु संपत्ति अभिरक्षक और भारत सरकार गृह मंत्रालय की टीम ने मैट्रोपोल तथा अन्य शत्रु संपत्ति के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की ।
जिसमें अभिराक्षक शत्रु संपत्ति ने नैनीताल की शत्रु संपत्ति का विवरण और कार्यवाही के बारे में विस्तृत जानकारी ली। जिलाधिकारी वंदना सिंह ने बताया तीन शत्रु संपत्ति वर्तमान तक चिन्हित हैं जिसमें मैट्रोपोल हिल्स होटल प्रा. लि. मल्लीताल की 8.72 एकड़ शत्रु संपत्ति है। जिसमें 0.690 एकड़ भूमि पर मैट्रोपोल के पुराने भवन निर्मित है, जो जीर्ण क्षीर्ण अवस्था में है। शेष 1.22 एकड़ भूमि नैनीताल-कालाढूंगी मोटर मार्ग से नीचे की तरफ स्थित है। जिसका अवैध कब्जा हटा दिया गया, जबकि 0.050एकड़ भूमि नैनीताल कालाढूंगी मार्ग में निर्मित है।शेष भूमि खाली है। जिसमें नगर पालिका परिषद द्वारा वर्तमान में पार्किंग की जा रही है। सनी बैंक स्थित अयारपाटा में शत्रु संपत्ति का क्षेत्रफल में 716.81 वर्ग मीटर है। जबकि कोठी नंबर 75 ए काशना ई अहमद काटेज राजभवन रोड तल्लीताल जिसका क्षेत्रफल 381.71 वर्ग मीटर है। डीएम ने कहा कि मेट्रोपोल वाले क्षेत्र में पार्किंग बनाने से पर्यटन नगरी में जाम की समस्या का समाधान होगा। साथ ही पार्किंग बनाने के लिए प्लान से भारत सरकार की टीम को अवगत कराया, कहा कि पहले चरण सरफेस पार्किंग बनाई जाएगी।
मेट्रोपोल शत्रु संपत्ति पर राज्य सरकार को पार्किंग बनाए जाने की अनुमति के संबंध में पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री जी ने माननीय गृह मंत्री भारत सरकार से नई दिल्ली में अनुरोध किया था, जिसके बाद भारत सरकार और अभिरक्षक की टीम द्वारा नैनीताल का दौरा किया गया।
इस दौरान उन्होंने मैट्रोपोल के जीर्ण शीर्ण भवनों का निरीक्षण भी किया।
बैठक में मुख्य रुप से शत्रु संपत्ति संरक्षक राहुल रमेश नंगारे,सलाहकार कर्नल संजय साह, अपर जिलाधिकारी शिव चरण द्विवेदी, एसपी क्राइम हरबंस सिंह, एसडीएम राहुल शाह, एसडीएम प्रमोद कुमार, लोनिवि एंक्शन रत्नेश सक्सेना आदि मौजूद रहे।

Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page