Connect with us

उत्तराखण्ड

उत्तरायणी मेले के दौरान नुमाईशखेत मैदान में विधिक साक्षरता एवं जागरूकता बहुद्देशीय शिविर आयोजित,,

बागेश्वर

उत्तरायणी मेले के दौरान शुक्रवार को नुमाईशखेत मैदान में विधिक साक्षरता एवं जागरूकता बहुद्देशीय शिविर आयोजित किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं सीनियर सिविल जज जयेंद्र सिंह ने शिविर में आम जनमानस को विधिक सेवा प्राधिकरण के क्रियाकलापों के बारे में जानकारी देते हुए कानून की बारीकियां लोगों को बताई। उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि देश का कोई भी नागरिक न्याय पाने से वंचित न रहे इसके लिए पूरे देश में विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा गरीब, असहाय, महिलाओं आदि को नि:शुल्क विधिक सहायता एवं साक्षरता दी जाती है। उन्होंने कहा प्राधिकरण का प्रथम उद्देश्य जनता को उनके अधिकारों से भिज्ञ कराने के साथ ही कानून के प्रति जागरूक करना है। उन्होने कहा विधिक सेवा प्राधिकरण वादों को बढावा नहीं देता बल्कि वादों का त्वरित निस्तारण करता है। उन्होंने नालसा एवं सालसा की योजनाएं की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि महिलाओं, बच्चों, बीपीएल, अनु0जाति, अनु0जन0जाति0 के साथ ही अपराध से पीड़ित को सहायता एवं नि:शुल्क विधिक सेवा, सहायता व नि:शुल्क अधिवक्ता भी दिया जाता है। उन्होंने कहा कि हैल्पलाइन नंबर- 05963-221844 व टोल फ्री नंबरर- 18001804000 पर भी विधिक जानकारियां ली जा सकती है। 

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने लोंगो से ऐसे शिविरों का लाभ लेते हुए कानूनी जानकारी लेकर जागरूक होते हुए लाभ उठाने की अपील की। शिविर में समस्त विभागों द्वारा स्टॉलों पर विभागीय योजनाओं की जानकारियां दी गयी तथा बहुउद्देश्यीय शिविर में कृषि विभाग द्वारा 55 लोगों को कृषि से संबंधित जानकारी, समाज कल्याण विभाग द्वारा 10 वृद्धावस्था, दिव्यांग विवाह आवेदन पत्र भरे गये तथा 05 लोगों का दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाये, जिला उद्योग विभाग द्वारा 15 लोगो को विभाग से संबंधित जानकारी दी, महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा 50 लोगो को नन्दा गौरा कन्या धन योजना एवं प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना एवं अन्य विषय पर जानकारी दी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बागेश्वर द्वारा 57 लोगो को विधिक कानूनी जानकारी दी तथा पम्पलेट वितरित किये गए, वन विभाग द्वारा 19 लोगो को विभाग द्वारा उत्पादित दाल एवं मसाले वितरित की गई, श्रम विभाग द्वारा 11 लोगों का पंजीकरण एवं ई-श्रम के फार्म भरे गए, पर्यटन विभाग द्वारा 63 लोगों को पर्यटन से संबंधित जानकारी दी गई, सेवायोजन विभाग द्वारा 7 लोगो को जानकारी एवं साहित्य वितरित किये गए एवं अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण उरेडा द्वारा विभाग से संबंधित 97 लोगो को जानकारी दी।

शिविर में पुलिस उपाधीक्षक एसएस राणा ने साइबर क्राइम, महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा आदि अपराधों को रोकने और एनडीपीएस एक्ट आदि की जानकारी दी साथ ही पुलिस एप व गौरा शक्ति एप की भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यदि साइबर अपराध से संबंधित कोई शिकायत हो तो 1930 में कॉल करें। शासकीय अधिवक्ता बसंत बल्लभ पाठक ने कानूनी जानकारियां दी तथा उपाध्यक्ष बार एसो. राकेश रौतेला ने आयकर व जीएसटी की जानकारियां दी। अधिवक्ता गोविन्द बल्लभ उपाध्याय, चन्द्र शेखर मिश्रा द्वारा भी कानूनी जानकारियां दी गयी।

शिविर में मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एनएस टोलिया, मुख्य कृषि अधिकारी एसएस वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, समाज कल्याण अधिकारी हेम तिवारी, अधि0अभि पीएमजीएसवाई विजय कृष्ण, जल संस्थान सीएस देवडी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व जयंत भाकुनी, भुबन काण्डपाल, मनोज कपकोटी, रघुवर सिंह दफौटी समेत काफी संख्या में आम जनता मौजूद थी।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page