Connect with us

उत्तराखण्ड

स्वराज हिंद फौज के संस्थापक एवं केन्द्रीय अध्यक्ष सुशील भट्ट की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन,,

 स्वराज हिंद फौज के  केन्द्रीय अध्यक्ष सुशील भट्ट ने कहा कि आज विश्व को फिर से गांधी जी के सिद्धांतों पर चलने की आवश्यकता है , जो कि पूर्णरूपेण सत्य और अहिंसा पर आधारित था । अहिंसा, और शांति के मार्ग पर चलकर ही कोई देश तरक्की कर सकता है ।  वसुधैव कुटुम्बकम व विश्व बंधुत्व की भावना से ही पूरे विश्व का कल्याण हो सकता है । आज जहाँ एक देश दूसरे देश को नष्ट करने में लगा है , तो वहीं मनुष्य धर्म के नाम पर आपस मे लड़ रहा है जबकि पृथ्वी पर ग्लोबल वार्मिंग नामक संकट आ गया है ,  जिससे पार पाने के लिए पूरे विश्व को एकजुट होना होगा , क्योंकि जब पृथ्वी बचेगी तभी हमारा जीवन भी सुरक्षित रहेगा वरना सब कुछ नष्ट हो जायेगा ।भारत में चल रहे जी-20 के 18वें शिखर सम्मेलन के विषय पर सुशील भट्ट ने कहा कि जी-20 सम्मेलन में अनुमन वैश्विक अर्थव्यवस्था को बढ़ाने पर चर्चा होती है । जी-20 ;सम्मेलन की अध्यक्षता भारत के पास होने की वजह से हमें उम्मीद है कि इस बार जी-20 सम्मेलन में डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर, साइबर सिक्यॉरिटी, डिजिटल स्किलिंग आदि विषयों के अलावा ग्लोबल वार्मिंग जैसे संवेदनशील मुद्दे पर भी चर्चा होगी । इस शिखर सम्मेलन में जी-20 नेताओं ने वैश्विक तापमान वृद्धि को 5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करने के प्रयासों पर भी सहमति भी व्यक्त की है , साथ ही जी-20 मे शामिल देश जलवायु परिवर्तन पर 2015 के पेरिस समझौते के साथ खड़े हैं जिसमें 'तापमान लक्ष्य' समझौते का मुख्य उद्देश्य है । उम्मीद है इस जी-20 शिखर सम्मेलन में विश्व शांति व एकता जैसे विषयों पर भी चर्चा होगी ।सुशील भट्ट ने कहा कि हमें व्यक्तिगत स्वार्थ के बजाय सेवा-कार्यों के उद्देश्य से ही सामाजिक संगठनों का गठन करना चाहिए । पारस्परिक सहयोग और त्याग की भावना से ही कोई संगठन प्रगति की और अग्रसर हो सकता है। किसी भी संगठन व व्यक्ति की पहचान उसके सिद्धान्तों व  नैतिक मूल्यों एवं आदर्शों के आधार पर होनी चाहिए लेकिन आज व्यक्ति की पहचान उसके धन व पद के आधार पर होती है , जो कि वर्तमान समाज की मनोदशा को दर्शाता है । देश की राजनीति में पुनः मूल्य और आदर्श स्थापित करने के लिए संस्थापक अध्यक्ष सुशील भट्ट ने स्वराज हिंद फौज के कार्यकर्ताओं को संगठन में अधिक से अधिक नैतिक व संस्कारित लोगों को जोड़ने का आह्वान किया।  संगठन विस्तार हेतु स्वराज हिंद फौज के संस्थापक अध्यक्ष सुशील भट्ट 2 अप्रैल को दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से मुंबई के लिए रवाना होंगे व उत्तराखंड के साथ ही महाराष्ट्र में भी स्वराज हिन्द फौज की इकाई गठित की जायेगी ।संस्थापक अध्यक्ष की अनुपस्थिति में संगठन का काम काज पूर्व केंद्रीय महामंत्री गिरीश चन्द्र लोहनी , दिगम्बर दत्त फुलोरिया , सुरेश कपिल संयुक्त रूप से देखेंगे । इसअवसर पर हुकम सिंह कुंवर ,उक्रांद नेता भुवन जोशी , दिगम्बर दत्त फुलोरिया , गिरीश चन्द्र लोहनी, सुरेश चन्द्र कपिल, डॉ0 अवधेश तिवारी , काँग्रेस नेता एन0 बी0 गुणवंत  , गौरव जसवाल बजेला , विनोद सिंह नेगी , एम0 के0 शर्मा , प्रदीप पाठक , शेखर जोशी , कमलेश पड़लिया , अमन रावत , योगेंद्र सिंह बिष्ट , वीरेन्द्र सिंह रौतेला , आनंद सिंह भाकुनी , प्रताप सिंह चौहान , लक्ष्मण गैड़ा , श्रीमती कल्पना भंडारी , राजेंद्र प्रसाद पारासरी , गोविंद गस्याल , देवेंद्र कुमार पांडे , सतीश सुयाल समेत कई लोग उपस्थित थे,
Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page